Dark web in hindi kya hai full information | डार्क वेब क्या है

Today we will learn and discuss about the dark web in hindi language with detailed information.

डार्क वेब क्या है इससे कैसे बचें ? डार्क वेब से आज पूरा संसार परेशान है। पूरे विश्व की सरकारें अपने आप को इस पर काबू पाने में असमर्थ पा रही है , क्योंकि डार्क वेब ने इंटरनेट पर एक अंधेरी दुनिया की शुरुआत की है , जहां पर किसी भी व्यक्ति की पहचान संभव नहीं है।

इस वेब की खासियत है , यहां विशेष प्रकार के प्रोग्रामिंग से इसकी डिजाइन  की गई है। जिसको पकड़ पाना किसी के लिए भी मुमकिन नहीं है , इसीलिए यह अपराध की दुनिया में बड़ी तेजी से फलता – फूलता  जा रहा है।

 

Dark web in hindi kya hai – डार्क वेब क्या है इससे कैसे बचें ?

You will get below the best information on dark web in hindi language.

What is Dark web in hindi ?

कुछ वर्षों से रैंसमवेयर वायरस ( Ransomware virus ) का चर्चा पूरे विश्व में बड़े ही तेजी से फैला हुआ है। यह एक ऐसा वायरस है जो किसी भी संस्थान की गोपनीय और संवेदनशील फाइलों को उनके स्वामी के अधिकारों से हटाकर अपने काबू में कर लेता है। हैकरों से उस फाइल को ले पाना नामुमकिन है , फाइल को पुनः प्राप्त करने के लिए हैकर पैसों की डिमांड कर रहे हैं।

हाल ही के चर्चित अमेरिका के फ्लोरिडा में हैकरों ने करीब 2 महीने पहले डार्क वेब की मदद से स्थानीय सरकार के संवेदनशील फाइलों को उनके वेबसाइट से हटा दिया था। यह संवेदनशील फाइलें बेहद ही जरूरी और गोपनीय थी जिसको पुनः वापस लौटाने के लिए हैकरों ने बड़ी मोटी रकम ली थी।
इन हैकरों के आगे अमेरिका की सरकारें भी मजबूर है। धीरे – धीरे डार्क वेब पर जुड़े हैकरों ने डिजिटल दुनिया में हड़कंप मचा दिया है , इसकी जद में एटीएम , बैंक और बड़े-बड़े संस्थाने है।

 

डीप वेब और डार्क वेब क्या है ? What is deep web and dark web in hindi ?

आप इंटरनेट का इस्तेमाल करते होंगे , जब आप किसी भी ब्राउज़र पर कुछ सर्च करते हैं , तो आपको गूगल ढेर सारे पेज आपके सामने खोलकर रख देता है। यह वह सब पेज होते हैं जो सार्वजनिक होते हैं। यह पूरी सामग्री नहीं होती , यह केवल 2 से 3% भाग ही होता है जो गूगल आपको दिखाता है। छिपा हुआ भाग  लगभग 97%  डीप वेब के रूप में होता है , जो उस कंटेंट के अथवा सामग्री के मालिक की पहुंच में होता है –

जैसे  –  बैंक के से जुड़ी जानकारी , वेबसाइट के ड्राफ्ट ,  ईमेल आदि

यह सभी गोपनीय सामग्री होती  हैं जो व्यक्ति को कानूनी हक प्रदान करती हैं।

डार्क वेब इंटरनेट की काली दुनिया है , जहां किसी को पहचान पाना मुश्किल है , इस दुनिया में अपराधियों का बोलबाला है , जो दुनिया से बच – बचाकर अपना कारोबार चलाते हैं। इसमें मानव तस्करी , ड्रग्स तस्कर , अवैध हथियारों की खरीद-फरोख्त अथवा बड़ी – बड़ी रकम / पैसों की लेन-देन तक की जाती है।

यहां पैसों का लेनदेन डिजिटल करेंसी अथवा बिटकॉइन या वर्चुअल रूप में होता है , जो सरकार और सामान्य व्यक्ति से बचकर किया जाता है।

 

डार्क वेब पर कारोबार किस प्रकार फल फूल रहा है? How and why dark web is growing ?

 

डार्क वेब का प्रयोग अमेरिका ने वर्ष 2000 के आरंभ में खुफिया एजेंसी अथवा सैनिकों के गुप्त सूचनाओं के लिए किया था। किंतु समय के साथ –  साथ इस वेब पर अपराधियों का कब्जा हो गया है। अब इसके सामने सरकार भी बेबस नजर आ रही है। इस वेब पर किसी भी व्यक्ति की पहचान कर पाना बेहद ही मुश्किल है। यही कारण है कि अपराधी इस वेब दुनिया पर अपनी पकड़ मजबूत करते जा रहे हैं।

हाल ही में आई एस आई ( ISI )  में शामिल हुए कई लोगों से जानकारी मिली है कि उन्होंने डार्क वेब की मदद से वह आतंकवादी संगठन में शामिल हुए थे।

आप इसी से अंदाजा लगा सकते हैं कि आज डार्क वेब कितना खतरनाक है।

यही नहीं डार्क वेब पर हैकरों ने अपना कब्जा किया हुआ है। बड़ी-बड़ी संस्थानों , अस्पताल और गुप्त सूचनाओं को वहां से हटाकर अपने पास कब्जे में कर लेते हैं और उसे लौटाने के एवज/ बदले  में बड़ी मोटी रकम डार्क वेब के माध्यम से वसूलते हैं।

डार्क वेब डॉट कॉम (.com ) , डॉट इन ( .in )  या यूएस ( .us ) आदि नाम से नहीं होता।

जबकि इसमें डॉट ओनियन ( .onion ) लिखा होता है। यह प्याज की भांति परत दर परत चढ़ी हुई होती है , कोई भी व्यक्ति जब इस डार्क वेब पर आता है तो उसका आईपी एड्रेस आदि तुरंत बदलता रहता है जिसके कारण कोई भी एजेंसी उस व्यक्ति की पहचान नहीं कर पाती।

इस वेब पर साधारण ब्राउज़र से एक्सेस नहीं किया जा सकता।

इस पर आने के लिए ओनियन ( tor ) राउटर ब्राउज़र की मदद ली जाती है।

 

डार्क वेब जैसे हैकरों से कैसे बचें? How to be safe from hackers in dark web in hindi ?

 

डार्क वेब बेहद ही खतरनाक और जटिल ब्राउज़र है , यहां आप जाने से परहेज करें , यही आपके बचाव का प्रथम सीढ़ी है। जो व्यक्ति इस ब्राउज़र पर जाता है , वह फिर अपनी सारी गोपनीयता को भंग कर देता है। क्योंकि वहां साइबर अपराधी इसी फिराक में रहते हैं , कोई नया व्यक्ति इस दुनिया में कदम रखें और उसका सभी डाटा / डिटेल उनके पास चला जाए।

साइबर अपराधी इसी ताक में रहते हैं कि कोई व्यक्ति इस पर कदम रखे और उसके सभी गोपनीय फाइल , फोटो , वीडियो ,  बैंक डिटेल सब को अपने कब्जे में कर सके।

जिसके कारण उसका अवैध प्रयोग करते हैं और सामान्य लोगों को नुकसान पहुंचाते हैं।

अमेरिका में एक साइबर अपराधी में डार्क वेब की मदद से ड्रग्स का आर्डर किया था और वह भी बिना उसके पैसे चुकाए।

ड्रग्स मालिक ने बताए गए पते पर ड्रग्स के साथ पुलिस को भी भेज दिया जिसके कारण साइबर अपराधी की पहचान हो सकी और उसे गिरफ्तार किया जाए सका।

पूछताछ में मालूम हुआ कि वह किस प्रकार साधारण व्यक्ति को टारगेट करते थे , वह जरूरी दस्तावेजों को किस प्रकार से हटाते थे और काला कारोबार करते थे।

अमेरिकी पुलिस के अनुसार डार्क वेब पर किसी भी व्यक्ति को जाने से बचना चाहिए।

 

डार्क वेब पर पुलिस और सरकार की पकड़ क्यों नहीं है ?

डार्क वेब का प्रयोग अमेरिकी पुलिस ने 2002 में अपने जासूसों और गुप्त सूचनाओं तथा सैनिक जानकारी के लिए किया था। यह तब तक ठीक चल रहा था जब तक उसने ईरान और दक्षिण कोरिया की सरकारों को सीक्रेट वार्तालाप के लिए नहीं दिया था।
इन देशों के पास इस वेब के पहुंचने के बाद ही वहां से इस ब्राउजर का प्रयोग अवैध रूप से सामान्य लोगों और हैकरो तक पहुंच गया। जिसके बाद डार्क दुनिया में हैकरो और अपराधियों की बाढ़ आ गई , और इस बाढ़ से निपटने का तरीका ना तो सरकार के पास है और ना ही पुलिस के पास।

इस प्रकार के डार्क वेब से बचने का केवल और केवल एक ही तरीका है कि इस प्रकार के डार्क वेब पर जाने से बचें।

कभी भी संदेह हो तो कानूनी सलाह ले और जरूरी कार्यवाही करें , और अपने गोपनीय जानकारी को किसी से भी साझा ना करें।

Read more posts

MARKETING

Brand name kaise banaye

Digital marketing kya hai

Free me website kaise banaye

Full website kaise banate hain

HOW TO MAKE MONEY ONLINE

Youtube se paisa kese kamaye

Affiliate marketing se kamane ka poora tarika

Dailymotion se paisa kamana seekhe

Online paisa kamane ke kuch tarike

SEO

Seo kya hai In Hindi Full Information

Blog post kaise rank kaise karein

Hindi jankari 

Hosting kya hoti hai

Domain name kya hota hai

एडसेंस क्या है 

Mobile number port kaise karen मोबाइल पोर्ट कैसे करें

Our social handles

Facebook page

Youtube channel

1 thought on “Dark web in hindi kya hai full information | डार्क वेब क्या है”

Leave a Comment