सॉफ्टवेयर क्या है ( इसके प्रकार, फायदे, उदाहरण ) पूरी जानकारी

इस लेख के माधयम से आप जाएंगे की सॉफ्टवेयर क्या है, इसके प्रकार, फायदे, उदाहरण और यह कैसे काम करता है।

आपको बता दें कि चाहे स्मार्टफोन हो या फिर लैपटॉप, सॉफ्टवेयर नाम हर जगह सुनने को मिलता है। कंप्यूटर का संचालन हार्डवेयर तथा सॉफ्टवेयर के माध्यम से किया जाता है। हार्डवेयर व सभी अंग है जिनको हम छू सकते हैं , बदल सकते हैं।

वही सॉफ्टवेयर हार्डवेयर को नियंत्रित तथा संचालित करने का एक माध्यम है। उनको प्रयोग में लाने की एक विधि है जिसको हम छू नहीं सकते केवल कंप्यूटरीकृत भाषा ( Programming language ) का प्रयोग करते हुए उन्हें निर्देशित कर सकते हैं।

सॉफ्टवेयर क्या है?

अगर हम सरल भाषा में बात करे तो सॉफ्टवेयर, निर्देशों तथा प्रोग्राम्स का एक समूह होता है जो कि कंप्यूटर को किसी विशेष कार्य करने के लिए निर्देश देता है।

अगर हम दूसरी भाषा मे बात करे तो सॉफ्टवेयर कंप्यूटर का वह भाग होता है जिसे हम देख सकते है लेकिन उसे छू नही सकते। आपने भी सॉफ्टवेयर से जुड़ी ये परिभाषा कही ना कही जरूर सुनी होगी और इसका इस्तेमाल भी काफी जगह किया होगा।

उदहारण के लिए

आप जैसे अपने फोन में कोई गेम खेल रहे हैं, या फिर फेसबुक या व्हाट्सएप भी चला रहे हैं तो यह भी एक प्रकार का सॉफ्टवेयर है।

अगर हम कंप्यूटर या फिर लैपटॉप का उदहारण ले तो

  • ऑफिस,
  • नोटपैड
  • और पेंट

ये सब भी एक प्रकार के सॉफ्टवेयर होते हैं। इन सभी सॉफ्टवेयर को हम सिर्फ देख सकते हैं लेकिन छू नही सकते हैं।

सॉफ्टवेयर के प्रकार

सॉफ्टवेयर दो प्रकार के होते हैं – 1 सिस्टम सॉफ्टवेयर 2 एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर

यहां ध्यान देने योग्य बात यह है कि शुरुआती दिनों में हार्डवेयर बनाने वाली कंपनियां ही , सॉफ्टवेयर का निर्माण किया करती थी। क्योंकि यह प्रक्रिया उन दिनों काफी जटिल हुआ करती थी।

वर्तमान में स्थिति वैसी नहीं है आज सॉफ्टवेयर का निर्माण कहे तो घर-घर में किया जा रहा है।

आज एक कोडिंग को जानने वाला छोटा बच्चा भी घर बैठे कुछ ऐसा एप्लीकेशन बना रहा है,जो स्वयं के लिए तथा समाज के लिए लाभकारी सिद्ध हो रहा है।

यह दोनों सॉफ्टवेयर क्या होते हैं इसके बारे में हम आपको बताने वाले हैं। सॉफ्टवेयर क्या है? इसके बारे में आप समझ गए होंगे।

कंप्यूटर सॉफ्टवेयर

सिस्टम सॉफ्टवेयरएप्लीकेशन सॉफ्टवेयर
प्रोग्रामिंग भाषावर्ड प्रोसेसिंग
ऑपरेटिंग सिस्टमस्प्रेडशीट
यूटिलिटीजडेटाबेस मैनेजमेंट
सब रूटीनग्राफिक्स
डायग्नोस्टिक रूटीनब्राउज़र
भाषा अनुवादकपर्सनल इनफॉरमेशन मैनेजर

 

एप्पलीकेशन सॉफ्टवेयर क्या होता है?

कंप्यूटर का प्रयोग हम विभिन्न उद्देश्यों की पूर्ति के लिए करते हैं। वर्तमान समय में कंप्यूटर ,मोबाइल आदि का प्रयोग आम हो गया है।

अर्थात यह प्रत्येक व्यक्ति के पहुंच में है नियमित दिनचर्या इनके बिना अधूरी है।

ऐसे में अपने उद्देश्यों को सरल रूप से पूरा करने के लिए हमें एप्लीकेशन तथा सॉफ्टवेयर की आवश्यकता होती है। इसके माध्यम से कंप्यूटर तथा मोबाइल हमारे जरूरतों को तत्काल पूरा करता है ,वह भी सुविधाजनक रूप से।

एप्पलीकेशन सॉफ्टवेयर को प्रोडक्टिविटी सॉफ्टवेयर भी बोला जाता है। ऐसा इसलिए बोला जाता हैं क्योंकि यह यूजर को टास्क पूरा करने में काफी ज्यादा मदद करता है

  • जैसे की डॉक्यूमेंट बनाने में मदद करना।
  • मेल भेजने में मदद करना।
  • ऑनलाइन रिसर्च करने में काफी ज्यादा मदद करता है।

एप्पलीकेशन सॉफ्टवेयर विशेष रूप से किसी काम को पूरा करने के लिए तैयार किया जाता है।

सिस्टम सॉफ्टवेयर क्या होता है?

सिस्टम सॉफ्टवेयर कंप्यूटर प्रोग्राम का ही एक प्रकार होता है। सिस्टम सॉफ्टवेयर वो सॉफ्टवेयर होता है जो कि दूसरे सॉफ्टवेयर के लिए प्लेटफार्म प्रदान करता है।

System software के उदहारण

  • यूटिलिटी सॉफ्टवेयर,
  • सिस्टम सर्वर्स,
  • डिवाइस ड्राइवर्स,
  • ऑपरेटिंग सिस्टम
  • और ग्राफिकल यूजर इंटरफेस।

आपको बता दें कि सॉफ्टवेयर क्या है ? यह एक बहुत बड़ा टॉपिक है और इसका कोई अंत नही है। यहाँ पर सॉफ्टवेयर क्या है? इसकी काफी सारी परिभाषा दी गई है जिसके बारे में हम आपको और जानकारी देने जा रहे हैं।

सॉफ्टवेयर के फायदे

  • अगर आपके कंप्यूटर में सॉफ्टवेयर नही होगा तो आपका कंप्यूटर एक मृत प्राणी के जैसा हो जाएगा। बिना सॉफ्टवेयर के कंप्यूटर एक डिब्बे समान हो जाएगा जिसकी कोई वैल्यू नही होती है।
  • अगर आपके कंप्यूटर या फिर मोबाइल में कोई ब्राउज़र नही होता तो आप इस लेख को नही पढ़ पाते।
  • कंप्यूटर में काफी सारे सॉफ्टवेयर होते हैं जो कि आपको अलग अलग कार्य करने के लिए योग्य बनाते हैं।
  • सॉफ्टवेयर आपके कंप्यूटर में जान फूंकने का कार्य करता है।
  • आपके कंप्यूटर को कुछ भी कार्य करने के लिए योग्य बनाता है।

यह भी पढ़ें

कंप्यूटर क्या है पूरी जानकारी

आउटपुट डिवाइस क्या है

इनपुट डिवाइस

OTP in hindi

RTGS in Hindi

Imps kya hai

NEFT क्या है

UPI kya hai

बिटकॉइन क्या है

Hosting kya hoti hai

Domain name kya hota hai

एडसेंस क्या है 

मोबाइल पोर्ट कैसे करें

 

सॉफ्टवेयर की जानकारी विस्तार में

सॉफ्टवेयर प्रोग्राम का वो समूह है जोकि कंप्यूटर को किसी विशेष कार्य करने के लिए निर्देश देता है। सॉफ्टवेयर को ना ही देख सकते हैं और ना ही छू सकते हैं क्योंकि इसका कोई अस्तित्व नही होता है।

लेकिन इसे समझा जरूर जा सकता है।

अगर आप जानना चाहते हैं कि एक सॉफ्टवेयर कैसे बनाया जाता है तो इसके बारे में भी हम भविष्य में जरूर बात करेंगे।

आप हर दिन या फिर हर महीने यह टॉपिक गूगल पर सर्च करते हैं कि आखिरकार सॉफ्टवेयर क्या है? बहुत से ब्लॉग में इसका जवाब मिल भी जाता है लेकिन समझ मे हमे कुछ नहीं आता है। और हमारी नॉलेज अधूरी रह जाती है।

लेकिन आज ऐसा नहीं है क्योंकि आज हम आपको सरल भाषा में समझा रहे हैं कि सॉफ्टवेयर क्या है? हम आपको यह भी समझा रहे हैं कि सॉफ्टवेयर कितने प्रकार के होते हैं। और यह कंप्यूटर या फिर मोबाइल फोन को योग्य बनाने में किस प्रकार सहयता करता है।

यहाँ पर कुछ जाने माने सॉफ्टवेयर के नाम दिए गए हैं जैसे कि

  • ऑफिस Microsoft Office (Word, Excel, PowerPoint) Microsoft Windows Media Player.
  • नोटपैड
  • और पेंट
  • Microsoft Windows 7 Operating System.
  • Adobe Acrobat Professional
  • Adobe Reader.
  • Google Chrome.
  • Microsoft Internet Explorer.

हम आपको बताना चाहते हैं कि इन सभी सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल अलग अलग कार्य के लिए किया जाता है। और यह सभी अलग अलग प्रकार के सॉफ्टवेयर होते हैं। आज आपको यहाँ पर काफी सारे सॉफ्टवेयर के नाम देखने को मिल रहे हैं। यह नाम आपको इसलिए बताये जा रहे हैं क्योंकि आपको समझ में आ जाये कि आखिरकार सॉफ्टवेयर होता क्या है और इसका इस्तेमाल कैसे किया जाता हैं।

निष्कर्ष –

हमने यह जाना कि सॉफ्टवेयर क्या है और यही हमारा आज का सबसे बड़ा सवाल था। हमने यह भी जाना कि सॉफ्टवेयर कितने प्रकार के होते हैं। इसके अलावा हमने यह भी जाना कि सॉफ्टवेयर मोबाइल या फिर लैपटॉप को कुछ भी कार्य करने के लिए योग्य कैसे बनाता है। अगर आपको हमारी आज की जानकारी पसंद आई है तो इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर करने की कोशिश करे।

Leave a Comment